Brahmi Publication

Mithila, History, Literature and Art

Twelve Adityas in Hindu Mythology

साम्ब-पुराणम्
Price- 200.00, Get Printed book

बारह आदित्यों के नाम साम्ब-पुराण के अनुसार इस प्रकार हैं-

नारद उवाच

अथादित्यस्य नामानि सामान्यानीह द्वादश।

द्वादशश्च पृथकत्वेन तानि वक्ष्याम्यशेषतः  १

आदित्यः सविता सूर्यो मिहिरोऽर्कः प्रभाकरः

मार्तण्डो भास्करो भानुश्चित्रभानुर्दिवाकरः  २

रविर्द्वादशधा चैव ज्ञेयः सामान्यनामभिः।

नारद कहते हैं कि अब आदित्य के 12 सामान्य नोमों को सुनें। फिर अलग से कुल 12 नामों को भी मैं कहूँगा। (1) आदित्य, (2) सविता, (3) सूर्य (4) मिहिर (5) अर्क, (6) प्रभाकर (7) मार्तण्ड, (8) भास्कर (9) भानु (10) चित्रभानु (11) दिवाकर, (12) रवि- इन 12 सामान्य नामों से आदित्य जाने जाते हैं।

Download the Introduction>>

विष्णुर्धाता भगः पूषा मित्रेन्द्रो  वरुणोऽर्यमा।। ३।।

विवस्वानंशुमाँस्त्वष्टा च पर्यन्यो द्वादश स्मृताः।

इत्येतद् द्वादशादित्याः पृथक्त्वेन प्रकीर्तिताः।।४।।

(1) विष्णु, (2) धाता, (3)भग (4) पूषा (5) मित्र (6) इन्द्र (7 वरुण, (8)अर्यमा (9) विवस्वान् (10) अंशुमान् (11) त्वष्टा, (12) पर्जन्य- ये 12 आदित्य अलग से कहे गये हैं।

Published in the book “ Asiatic Researches; or Transactions of the Society,” Vol. 1, 1808 A.D.
error: Content is protected !!